• banner

शाहनजफ इमामबाड़ा

इस सफेद गुंबददार इमारत का निर्माण नवाब गाजी-उद्-दीन हैदर द्वारा किया गया था।सन् 1816-1817 में वे अवध के पहले राजा और आखिरी नवाब वजीर थें।

यह इमामबाड़ा सिकन्दराबाद के पास गोमती नदी के तट पर स्थित है और यह इराक के नजफ में हजरत अली की कब्रगाह की प्रतिकृति है। गाजी-उद-दीन हैदर की चांदी कब्र इस इमारत के केंद्र में है और उसकी तीन पत्नियों को भी यहां दफन किया गया है। इसके एक हिस्से में मुबारक महल में भव्य चांदी और सोने की गुंबद है।.