• banner

वाइल्ड लाइफ-ईको पर्यटन सर्किट

Sravasti

वाइल्ड लाइफ-ईको पर्यटन सर्किट

  • तराई क्षेत्र उत्तर प्रदेश में सबसे सुरम्य जीवमंडल भंडार में से एक है।
  • इसका हरा-भरा क्षेत्र वन्य जीवन के लिए प्राकृतिक घर जैसा है ।
  • प्रकृति प्रेमियों के लिए यहां बाघ, हाथी, हिरण, मगरमच्छ, डॉल्फिन, उत्तम प्रजातियों के पक्षी और घने वनस्पति देखना किसी सपने के सच होने जैसा है।

दुधवा

  • यह नेशनल पार्क हिरण, हाथी, बाघ, तेंदुए और पक्षियों की विभिन्न प्रजातियों का घर है।
  • शहरों की भागदौड़ से दूर तराई तलहटी में प्राकृतिक शांति के साथ कुछ समय बिताने के लिए यह उपयुक्त स्थान है।
  • गहरे हरे जंगलों के बीच बहने वाली नदियां आपको जंगल का पूर्ण अनुभव कराती हैं।

पीलीभीत

  • पीलीभीत टाइगर रिजर्व हिमालय की तलहटी में भारत-नेपाल सीमा पर लखीमपुर-खीरी और बहराइच जिलों और तराई के मैदानी इलाकों में स्थित है।
  • यह भारत के बाघ संरक्षण अभयारण्यों में से एक है और बाघों के अस्तित्व को सुरक्षित रखने के अभियान का हिस्सा है।
  • यहां 127 से अधिक पशुओं, 556 प्रजातियों के पक्षी और 2100 फूल पौधे यहाँ पाये जाते हैं।

कतर्निया घाट

  • बहराइच जिले में स्थित कतर्निया घाट लखनऊ से 200 किमी दूर है।
  • गिर्वा नदी के ताजे पानी में डॉल्फिन पाई जाती हैं।
  • बाघ, तेंदुआ, हिरण के आलावा कई वन्य जीव यहां रहते हैं।.