#Ummazing Uttar Pradesh

में आपका स्वागत है

यूपी नहीं देखा तो इंडिया नहीं देखा

उत्तर प्रदेश मानचित्र

यूपी नहीं देखा तो इंडिया नहीं देखा

  • Unforgettable

    Unforgettable

  • Tranquil

    Tranquil

  • Timeless

    Timeless

  • Alive

    Alive

  • Resplendent

    Resplendent

  • Picturesque

    Picturesque

  • Rejuvenating

    Rejuvenating

  • Amazing

    Amazing

  • Divine

    Divine

  • Enchanting

    Enchanting

  • Serene

    Serene

  • Historical

    Historical

  • योगी आदित्यनाथ

    माननीय मुख्यमंत्री
    उत्तर प्रदेश

  • श्री जयवीर सिंह

    श्री जयवीर सिंह

    माननीय कैबिनेट मंत्री
    पर्यटन विभाग
    उत्तर प्रदेश

बैकग्राउंड

जानें, उत्तर प्रदेश को

अधिक विवरण जानने हेतु सम्बंधित जिले पर क्लिक करें

Tooltip

सहारनपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 20831.33, सहारनपुर जिले ने 1997 में उत्तरप्रदेश के सहारनपुर डिवीजन के रूप में दर्जा प्राप्त किया है। सहारनपुर शहर ने 01-10-2009 को सहारनपुर नगर निगम के रूप में स्थिति प्राप्त कर ली है

  • क्षेत्रफल : 3,689 sq. km. (वर्ष 2011)
  • आबादी : 3,467,332 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार))
  • भाषा : हिंदी,अंग्रेज़ी
  • गाँव : 887
  • पुरुष : 18,34,709 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार))
  • महिला : 16,32,623 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)

बिजनौर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 21553.05, बिजनौर भारत के उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर एवं लोकसभा क्षेत्र है। हिमालय की उपत्यका में स्थित बिजनौर को जहाँ एक ओर महाराजा दुष्यन्त, परमप्रतापी सम्राट भरत, परमसंत ऋषि कण्व और महात्मा विदुर की कर्मभूमि होने का गौरव प्राप्त है

  • क्षेत्रफल : 4,049 sq. km. (वर्ष 2011)
  • आबादी : 36,82,713 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • भाषा : हिंदी,अंग्रेज़ी
  • गाँव : 2519
  • पुरुष : 19,21,215 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • महिला : 17,61,498 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)

बागपत

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8383.29, मालिक जाटों का यह गाँव हिंडन नदी के किनारों पर एक पहाड़ी पर बसा हुआ है । यह मंदिर उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में स्थित है । यहाँ भगवान शिव को समर्पित एक अति प्राचीन मंदिर है जहाँ साल में दो बार शिव भक्त हरिद्वार से पवित्र गंगा जल लेकर भगवान शिव के अभिषेक हेतु यहाँ तक पैदल यात्रा करके आते हैं ।

  • क्षेत्रफल : 1,321 sq. km. (वर्ष 2011)
  • आबादी : 1,303,048 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 245
  • पुरुष : 700,070 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • महिला : 602,978 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)

मेरठ

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 36505.91, सरधाना मेरठ के पश्चिम में लगभग 22 किमी पर स्थित है। यह एक भव्य शहर है, जिसका अतीत काफी ऐतिहासिक रहा है। इसकी स्थापना फ्रेंच एडवेंचरर वॉल्टर रेनहार्ड्ट, सनैरा नाम से भी प्रख्यात, द्वारा 18वीं शताब्दी में कराई गई थी ।

  • क्षेत्रफल : 2590 sq. km. (वर्ष 2011)
  • आबादी : 34,44,000 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 662
  • पुरुष : 18,26,000 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • महिला : 16,18,000 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)

रामपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 14429.67, रामपुर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के रामपुर जिले में स्थित एक शहर एवं नगर महापालिका है। यह मुरादाबाद एवं बरेली के बीच में पड़ता है। रामपुर नगर कोसी के बाएँ किनारे पर स्थित है। रामपुर नगर उत्तरी रेलवे मण्डल में है।

  • क्षेत्रफल : 2367 Sq.Km.
  • आबादी : 2,335,819
  • दूरभाष : 0595
  • वाहन पंजी : UP-22
  • पिन : 244901

ज्योतिबा फुले नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 15395.45

विषय वस्तु शीघ्र ही उपलब्ध होगी

पीलीभीत

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11692.15, पीलीभीत भारत के उत्तर प्रदेश प्रांत का एक जिला है, जिसका मुख्यालय पीलीभीत है। पीलीभीत जिले का उत्तर-पूर्वी खंड सबसे ज़्यादा रोहिलखंड है जो नेपाल की सीमा पर हिमालय के उप बेल्ट में स्थित है। यह 28o6 ‘और 28o53′ उत्तर अक्षांश और 79o57 ‘और 80o27′ पूर्वी देशांतर के परिधि के समानांतर के बीच है।

  • क्षेत्रफल : 3,499 Sq. Km.
  • आबादी : 20.3 लाख
  • भाषा : हिन्दी, बांग्ला, अंग्रेजी, उर्दू, पंजाबी
  • गाँव : 1440
  • पुरुष : 10.7 लाख
  • महिला : 9.6 लाख

बरेली

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 29511.08, बरेली उत्तरी भारत में उत्तर प्रदेश राज्य का जिला है | यह एक मंडल मुख्यालय भी है । यह जनपद प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 252 कि.मी. उत्तर में तथा देश की राजधानी नई दिल्ली से 250 कि.मी. पूर्व में स्थित है | प्रदेश का आठवां महानगर, और भारत का 50 वां सबसे बड़ा शहर है। रामगंगा नदी के तट पर बसा यह शहर रोहिलखंड के ऐतिहासिक क्षेत्र की राजधानी था।

  • क्षेत्रफल : 4,120 Sq. Km.
  • आबादी : 4,448,359
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 2070
  • पुरुष : 2,357,665
  • महिला : 2,090,694

बुलन्दशहर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 23812.04, बुलन्दशहर का प्राचीन नाम बरन था। इसका इतिहास लगभग 1200 वर्ष पुराना है। इसकी स्थापना अहिबरन नाम के राजा ने की थी। बुलन्दशहर पर उन्होंने बरन टॉवर की नींव रखी थी।वर्तमान में बुलन्दशहर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य का एक जिला है जो कि दिल्ली से महज 64 किलोमीटर कि दूरी पर स्थित है|

  • क्षेत्रफल : 4353 Sq. Km.
  • आबादी : 34,99,171
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1246
  • पुरुष : 18,45,260
  • महिला : 16,53,911

लखीमपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 23812.04, लखीमपुर खेरी उत्तर प्रदेश, भारत, नेपाल के साथ सीमा पर सबसे बड़ा जिला है। इसकी प्रशासनिक राजधानी लखीमपुर शहर है।

  • क्षेत्रफल : 7,680 km2 (2,970 sq mi)
  • आबादी : 4,021,243
  • भाषा : अवधी, हिंदी
  • ग्राम पंचायत : 1167
  • पुरुष : 2,123,187
  • महिला : 1,898,056

गौतमबुद्ध नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 102909.27, जिला गौतमबुद्ध नगर को शाशनादेश संख्या १२४९/९७/८२/९७ के क्रम में दिनांक ०६/०९/१९९७ को जिला गाज़ियाबाद एवं बुलंदशहर के कुछ हिस्सों को काट कर बनाया गया| जिला गौतमबुद्ध नगर के दादरी एवं बिसरख विकासखंड जिला गाज़ियाबाद से लिए गए,जबकि विकासखंड दनकौर एवं जेवर जिला बुलंदशहर से लिए गए|

  • क्षेत्रफल : 1442 Sq.Km.
  • आबादी : 16,48000
  • साक्षरता : 80.1%
  • पुरुष : 890000
  • महिला : 758000

बहराइच

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 10749.37,बहराइच देवीपाटन डिवीजन के उत्तर-पूर्वी हिस्से में स्थित है। यह 28.24 से 27.4 अक्षांश और 81.65 से 81.3 पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है। 1 99 1 के जिले के इलाके के अनुसार है 4696.8 वर्ग किमी देवपतन डिवीजन का 31.9 9% है।

  • क्षेत्रफल : 4696.8 Sq. Km.
  • आबादी : 3,487,731
  • भाषा : हिंदी, उर्दू
  • गाँव : 1395
  • पुरुष : 1,843,884
  • महिला : 1,643,847

शाहजहाँपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 14811.98, जिला शाहजहाँपुर रोहिलखंड डिवीजन के दक्षिण पूर्व में स्थित है. इसकी स्थापना 1813 में हुई थी l शाहजहाँपुर जिला बनने से पहले यह जिला बरेली का एक हिस्सा था l भौगोलिक दृष्टि से, यह 27.35 एन अक्षांश और 79.37 ई देशांतर पर स्थित है l शाहजहाँपुर के आसपास के जिलों में लखीमपुर खीरी, हरदोई, फर्रुखाबाद, बरेली, बदॉयू व पीलीभीत है l इसका भौगोलिक क्षेत्र 4575 वर्ग किलोमीटर है l

  • क्षेत्रफल :4,575 Sq. Km.
  • आबादी : 3,006,538
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 2325
  • पुरुष : 1,606,403
  • महिला : : 1,400,135

अलीगढ़

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 21154.35, अलीगढ़ उत्तर प्रदेश, भारत का एक जिला है। शहर नई दिल्ली से लगभग 90 मील (140 किमी) दक्षिण-पूर्व स्थित है। अलीगढ़ जिले का प्रशासनिक मुख्यालय अलीगढ़ (कोल) है। यह सभी चार जिलों अलीगढ़, हाथरस, कासगंज और एटा के लिए एक मण्डल है। यह ज्यादातर एक विश्वविद्यालय शहर के रूप में जाना जाता है जहां प्रसिद्ध अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय स्थित है। यह ताला उद्योगों की वजह से विश्व प्रसिद्ध जिले के रूप में जाना जाता है।

  • क्षेत्रफल :3,650 Sq.Km.
  • आबादी : 36,73,889
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1210
  • पुरुष : 19,51,996
  • महिला : : 17,21,893

एटा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8090.14, 2011 की जनगणना के अनुसार एटा जिले की आबादी 1,761,152 है। यह भारत में 272 वें स्थान पर है (कुल 640 जिलों में से)। जिले में प्रति वर्ग किलोमीटर (1,860 / वर्ग मील) 717 निवासियों की आबादी घनत्व है। 2001-2011 के दशक में इसकी जनसंख्या वृद्धि दर 12.77% थी। एटा के प्रत्येक 1000 पुरुषों के लिए 863 महिलाओं का लिंग अनुपात और 73.27% की साक्षरता दर है।

  • क्षेत्रफल : 4,446 Sq. Km.
  • आबादी : 1774480
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 833
  • पुरुष : 947339
  • महिला : : 827141

मथुरा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 15672.03, मथुरा उत्तर प्रदेश राज्य उत्तर प्रदेश में एक शहर है। यह आगरा के उत्तर में लगभग 50 किलोमीटर (31 मील) और दिल्ली के 145 किलोमीटर (9 0 मील) दक्षिण-पूर्व में स्थित है; वृंदावन शहर से लगभग 11 किलोमीटर (6.8 मील), और गोवर्धन से 22 किलोमीटर (14 मील) दूर है।

  • क्षेत्रफल : 3340Sq. Km
  • आबादी : 25,47,000
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 880
  • पुरुष : 13,67,000
  • महिला : : 11,80,000

श्रावस्ती

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 2871.54, राप्ती नदी के तट पर यह स्थान सहेठ-महेठ के अवशेषों से चिन्हित है। यह प्राचीन कोसला साम्राज्य की राजधानी हुआ करती थी और बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए पवित्र स्थान माना जाता है, क्योंकि यहाँ भगवान बुद्ध ने नास्तिकों को सही दिशा दिखाने के लिए कई चमत्कार किये थे। इन चमत्कारों में बुद्ध ने अपने कई रूपों के दर्शन कराये थे। यह स्थान बौद्ध सर्किट के अंतर्गत निर्मित सड़कों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

  • क्षेत्रफल : 1,948.20 Sq. Km.
  • आबादी :11,14,615
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 536
  • पुरुष : 5,94,318
  • महिला : : 5,20,297

हाथरस

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9047.41, हाथरस भारत केउत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर एवं लोकसभा क्षेत्र है। हाथरस में दक्षिण-पश्चिमी दिशा में 19वीं शताब्दी के एक दुर्ग के भग्नावशेष विद्यमान हैं। हर साल लख्खा मेला को भगवान बालम मंदिर में मनाया जाता है जो लोकप्रिय रूप से डू बाबा के नाम से जाना जाता है।

  • क्षेत्रफल : 1800.1q. Km.
  • आबादी :15,64,708
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 683
  • पुरुष :8,36,127
  • महिला : :7,28,581

सीतापुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 18735.31, सीतापुर का नाम, राजा विक्रमदित्य ने भगवान राम की पत्नी सीता के नाम के बाद स्थापित किया था। यह जगह प्राचीन, मध्ययुगीन और आधुनिक इतिहास से संबंधित है। यह द्रष्टा और सूफी का एक देश है। पुराण ऋषि वेद व्यास ने इस होली भूमि पर लिखा था। हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, सीतापुर में एक धार्मिक प्राचीन स्थान नेपाल या नैमिश्ररण्य का दौरा किए बिना पांच मुख्य धार्मिक हिंदू स्थानों की ‘पंच धाम यात्रा’ की यात्रा पूरी नहीं की जाएगी। हजरत मखडूम एसबी के दर्गा खैराबाद और हज़रत गुलज़ार शाह में सांप्रदायिक सौहार्द का प्रतीक हैं।

  • अक्षांश देशांतर :27.57°N 80.66°E
  • आबादी :4,483,992
  • भाषा : हिंदी, उर्दू और अवधी
  • तहसील : 7
  • वाहन रजिस्ट्रेशन :UP-34
  • पिन कोड : : 261001

बलरामपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6039.95, बलरामपुर, उत्तर प्रदेश, भारत राज्य में बलरामपुर जिले में एक नगर और एक नगर मंडल है । यह नदी राप्ती के किनारे पर स्थित है और बलरामपुर जिले का जिला मुख्यालय है । बलरामपुर जिले का निर्माण जी.डी.नं-1428/1-5/97/172/85-आर-5 द्वारा किया गया । लखनऊ दिनांक 25 मई, 1997 को जिला गोंडा के संभाग से सिद्धार्थ नगर, श्रावस्ती, गोंडा जिला क्रमशः पूर्व-पश्चिम और दक्षिण दिशा में स्थित हैं और नेपाल राज्य इसके उत्तरी पक्ष में स्थित हैं ।

  • क्षेत्रफल : 3349 Sq. Km.
  • आबादी :21,48,795
  • भाषा : हिंदी / उर्दू / अवधी
  • गाँव : 1017
  • पुरुष :11,14,839
  • महिला : : 10,33,956

हरदोई

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 14146.84, हरदोई जिला भारत के उत्तर प्रदेश प्रांत में लखनऊ कमीशन का एक जिला है। यह 26-53 से 27-46 उत्तरी अक्षांश और 79-41 से 80-46 पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है। इसकी उत्तर सीमा शाहजहांपुर और लखीमपुर खीरी जिले, लखनऊ (यू.पी. की राजधानी) और उन्नाव दक्षिण सीमा पर स्थित है, पश्चिम की सीमाएं कानपुर (यू.पी. के औद्योगिक शहर) और फर्रुखाबाद को छूती हैं और पूर्वी सीमा पर गोमती नदी जिले को सीतापुर से अलग करती है।

  • क्षेत्रफल :5,989 Sq. Km.
  • आबादी :40,92,845
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 2072
  • पुरुष :21,91,442
  • महिला : 19,01,403

कासगंज

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 7630.46

विषय वस्तु शीघ्र ही उपलब्ध होगी

फर्रुखाबाद

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 7583.57, फर्रुखाबाद की स्थापना नवाब मोहम्मद खां बंगश ने की थी, जिसने इसे 1714 में शासक सम्राट फरुखशियर के नाम पर रखा था, फर्रुखाबाद जिला, कानपुर मण्डल का हिस्सा है। फर्रुखाबाद टाउनशिप फतेहगढ़ एवं फर्रुखाबाद दो कस्बों में बंटी है , फर्रुखाबाद और फतेहगढ़, पहला तहसील का मुख्यालय है और दूसरा जिले का मुख्यालय है, दोनों 5 किमी की दूरी पर हैं।

  • क्षेत्रफल :2181 Sq. Km.
  • आबादी :1885000
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1007
  • पुरुष :1006000 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)
  • महिला : 879000 (वर्ष 2011 जनगणना के अनुसार)

सिद्धार्थ नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8070.32, सिद्धार्थनगर, उत्तर भारत में उत्तर प्रदेश राज्य के 75 जिलों में से एक है। नौगढ़ शहर जिला मुख्यालय है। नौगढ़ गोरखपुर-आनंदनगर-गोंडा ब्रॉड-गेज लाइन पर एक रेलवे स्टेशन भी है। सिध्दार्थ नगर जिले बस्ती डिवीजन का एक हिस्सा है।

  • क्षेत्रफल :2,895 Sq.Km.
  • आबादी :2,559,297
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 2545
  • पुरुष :1,295,095
  • महिला : 1,264,202

महराजगंज

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8724.81, दिनाक 2 अक्टूबर 1989 को जनपद गोरखपुर से कटकर जनपद महराजगंज का सृजन हुआ| सीमावर्ती स्थिति के परिप्रेक्ष्य में इस जनपद के उत्तर में नेपाल राष्ट्र, दक्षिण में गोरखपुर जनपद, पूरब में कुशीनगर जनपद तथा बिहार प्रान्त का जनपद पश्चिम चम्पारण तथा पश्चिम में सिद्धार्थनगर है| वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर इस जनपद की कुल जनसंख्या 26,85,292 है|

  • क्षेत्रफल :2,952 Sq.Km.
  • आबादी :26,85,292
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1262
  • पुरुष :13,82,000
  • महिला : 13,03,000

फिरोजाबाद

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 12056.94, फिरोजाबाद उत्तर प्रदेश का एक शहर एवं जिला मुख्यालय है।यह शहर चूड़ियों के निर्माण के लिये प्रसिद्ध है। यह आगरा से 40 किलोमीटर और राजधानी दिल्ली से 250 किलोमीटर की दूरी पर पूर्व की तरफ स्थित है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ यहाँ से लगभग 250 किमी पूर्व की तरफ है।

  • क्षेत्रफल :2362 Sq.Km.
  • आबादी :2498156
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 806
  • पुरुष :1332046
  • महिला :1166110

मैनपुरी

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 7906.22, मैनपुरी जिला उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा डिवीजन के जिलों में से एक है। मैनपुरी शहर जिला मुख्यालय है। इसमें छः तहसीलों, अर्थात् मैनपुरी, भोंगाव, करहल, किशनी, कुरावली और घिरोर शामिल हैं। यह जिला के पूर्व में फर्रुखाबाद और कन्नौज ,पश्चिम में जिला फिरोजाबाद और उत्तर में एटा तथा दक्षिण में जिला इटावा स्थित है।

  • क्षेत्रफल :2760 Sq. Km.
  • आबादी :2131171
  • भाषा : हिंदी
  • तहसील : 6
  • पुरुष :1133005
  • महिला :998166

आगरा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 40929.9, आगरा उत्तरी भारत उत्तर प्रदेश, भारत में यमुना नदी के तट पर एक शहर है। यह राज्य की राजधानी लखनऊ के 378 किलोमीटर पश्चिम में है,राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली से 206 किमी दक्षिण में, मथुरा से 58 किलोमीटर दक्षिण और ग्वालियर से 125 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। आगरा उत्तर प्रदेश के सबसे अधिक आबादी वाले शहरों में से एक है और भारत में 24 वां आबादी वाला शहर है।

  • क्षेत्रफल :10,863 Sq. Km.
  • आबादी :4,418,797
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 906
  • पुरुष :2,364,953
  • महिला :2,053,844

गोंडा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11531.55, 4,003 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में, गोंडा उत्तर में श्रावस्ती जिले के साथ, पूर्वोत्तर में बलरामपुर और सिद्धार्थनगर जिले, पूर्व में बस्ती जिले, दक्षिण में फैजाबाद जिले, दक्षिण-पश्चिम में बाराबंकी जिले, और उत्तर-पश्चिम में बहराइच जिले के 26 ° 47 ‘और 27 ° 20’ उत्तरी अक्षांश और 81 ° 30 ‘और 82 ° 46’ पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है।

  • क्षेत्रफल :4003 Sq. Km.
  • आबादी :3,433,919(Census-2011)
  • भाषा : हिंदी,अंग्रेज़ी
  • गाँव : 1821
  • पुरुष :1,787,146(Census-2011)
  • महिला :1,646,773(Census-2011)

कुशीनगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11857.74, कुशीनगर एवं कसिया बाजार उत्तर प्रदेश के उत्तरी-पूर्वी सीमान्त इलाके में स्थित एक क़स्बा एवं ऐतिहासिक स्थल है। “कसिया बाजार” नाम कुशीनगर में बदल गया है और उसके बाद “कसिया बाजार” आधिकारिक तौर पर “कुशीनगर” नाम के साथ नगर पालिका बन गया है। यह बौद्ध तीर्थस्थल है जहाँ गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था।

  • क्षेत्रफल : 2906 Sq. Km.
  • आबादी :3,564,544
  • भाषा : हिंदी, भोजपुरी
  • गाँव : 1620
  • पुरुष :1,818,055
  • महिला :1,746,489

बाराबंकी

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 17495.08, बाराबंकी जिले की भूमि में अपने गौरवशाली अतीत के साथ एक समृद्ध विरासत है।यह जिला अपनी स्थापना के बाद से कई संतों और साधुओं के लिए ध्यान भूमि, साहित्यिक बुद्धिजीवियों के लिए ‘साधना’ और स्वतंत्रता सेनानियों के लिए ‘युद्धक्षेत्र’ रही है।

  • क्षेत्रफल : 3891.5 Sq.Kms.
  • आबादी :32,60,699
  • भाषा : हिन्दी (अवधी)
  • गाँव : 1845
  • पुरुष :17,07,073
  • महिला :15,53,626

कन्नौज

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9928.71, कन्नौज जिले भौगोलिक दृष्टि से 27 डिग्री 13 मिनट 30 सेकंड उत्तरी अक्षांश और 79 डिग्री 1 9 मिनट से 80 डिग्री 1 मिनट पूर्व रेखांट के बीच में घिरी हुई है। 18 फरवरी, 1 99 7 को पूर्वी फ़ारूखाबाद जिले से जिले का निर्माण किया गया था। यह जिला कानपुर डिवीजन में स्थित है,

  • क्षेत्रफल : 2093 Sq. Km.
  • आबादी :13,75,775
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 752
  • पुरुष :73,42,45
  • महिला :64,15,30

लखनऊ

लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी है। यह हैरिटेज आर्क के मध्य में स्थित है। lहलचल भरा यह शहर नवाबी तहजीब, एतिहासिक विरासतें, स्वादिष्ट खान-पान और प्राचीन व आाधुनिक संस्कृति के अनूठे संगम के कारण प्रसिद्ध है। यहां प्राचीन औपनिवेशिक और प्राच्य वास्तुकला का अनूठा संगम देखने को मिलता है।

  • क्षेत्रफल : 2.528 वर्ग किलोमीटर।
  • आबादी : 36,47,834(2001 जनगणना के अनुसार)
  • ऊँचाई : समुद्र तल से 123 मीटर
  • मौसम : अक्टूबर-मार्च
  • वस्त्र (गर्मी): सूती वस्त्रों
  • वस्त्र (शीतकाल) : ऊनी

बस्ती

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9231.88, बस्ती जिला भारत (इंडिया) के उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित हैं | बस्ती नगरपालिका इस जनपद का मुख्यालय हैं| यह जनपद, मंडल का भी मुख्यालय हैं जिसके अंतर्गत कुल तीन जनपद बस्ती, सिद्धार्थनगर और संत कबीर नगर आते हैं | जनपद बस्ती प्राचीन काल में हिमालय के मैदानी भाग में एक गांव था जो जंगल से घिरा हुआ था, यही पर ऋषि वशिष्ठ का आश्रम हुआ करता था, ऐसी मान्यता हैं की भगवन श्री राम अपने भाई लक्षमण से साथ ऋषि वशिष्ठ के साथ कुछ समय के लिए रहे थे, कालांतर में इस स्थान का नाम बस्ती पड़ गया|

  • क्षेत्रफल : 2688 Sq. Km.
  • आबादी :2464464
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 3348
  • पुरुष :1255272
  • महिला :1209192

गोरखपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 19221.83, उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में गोरखपुर, बाबा गोरखनाथ के नाम से सुविख्यात अनेक पुरातात्विक, अध्यात्मिक, सांस्कृतिक एवं प्राकृतिक धरोहरों को समेटे हुए है। मुंशी प्रेमचन्द की कर्मस्थली, फिराक गोरखपुरी की जन्मस्थली, अमर शहीद पं0 राम प्रसाद बिस्मिल, बन्धु सिंह व चौरीचौरा आन्दोलन के शहीदों की शहादत स्थली के रुप मे गोरखपुर, पूर्वांचल के गौरव का प्रतीक है।तीर्थाकर महावीर, करुणावतार गौतम बुद्ध, संत कवि कबीरदास एवं गुरु गोरक्षनाथ ने जनपद के गौरव को राष्ट्रीय व अन्तराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्थापित किया ।

  • क्षेत्रफल : 3483.8 Sq. Km.
  • आबादी :44,40,895
  • भाषा : हिन्दी, भोजपुरी
  • गाँव : 3448
  • पुरुष :22,77,777
  • महिला : 21,63,118

संत कबीर नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 4642.66, संत कबीर नगर 5 सितंबर 1 99 7 को बनाया गया है। यह जिला संत कबीर दास की गतिविधियों का क्षेत्र था और इसलिए इसका नाम “संत कबीर नगर” रखा गया है। जिला संत कबीर नगर की स्थापना पूर्व जिला बस्ती के तहसील खलीललाबाद, तहसील बस्ती के 131 गांवों और जिला सिद्धार्थ नगर के तहसील बांसी के विकास खंड सांथा के सभी 161 गांवों को जोडा गया हैं।

  • क्षेत्रफल : 1646 Sq. Km.
  • आबादी :1706706
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1727
  • पुरुष :865195
  • महिला : 841511

उन्नाव

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 13795.8, जिला का नाम मुख्यालय शहर, उन्नाव है। लगभग 1200 साल पहले, इस शहर की साइट को व्यापक वनों के साथ कवर किया गया था। चौहान राजपूत, गोडो सिंह, ने शायद 12 वीं सदी की तीसरी तिमाही में जंगलों को मंजूरी दे दी और एक शहर की स्थापना की, जिसे सवाई गोडो कहा जाता है।

  • क्षेत्रफल : 4,558 Sq. Km.
  • आबादी :3,108,367
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1044
  • पुरुष :1,630,087
  • महिला : 1,478,280

इटावा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8370.88, इटावा जिला उत्तर प्रदेश के दक्षिण-पश्चिमी भाग 26’ 47 “उत्तरी अक्षांश और 72’ 20” पूर्वी देशांतर में स्थित है और कानपुर मंडल का एक हिस्सा है। आकार में यह उत्तर से दक्षिण 70 किलोमीटर और पूर्व से पश्चिम एक ओर 66 किमी तथा दूसरी ओर 24 किमी की लंबाई के साथ एक समानांतर चतुर्भुज के रूप में है।

  • क्षेत्रफल : 2,311 Sq. Km.
  • आबादी :15,81,810
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 692
  • पुरुष :8,45,856
  • महिला : 7,35,954

कानपुर नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 35232.65, कानपुर भारतवर्ष के उत्तरी राज्य उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख औद्योगिक नगर है। यह नगर गंगा नदी के दक्षिण तट पर बसा हुआ है। प्रदेश की राजधानी लखनऊ से ८० किलोमीटर पश्चिम स्थित यहाँ नगर प्रदेश की औद्योगिक राजधानी के नाम से भी जाना जाता है। माना जाता है कि इस शहर की स्थापना सचेन्दी राज्य के राजा हिन्दू सिंह ने की थी।

  • क्षेत्रफल : 10,863 Sq. Km.
  • आबादी :4581268
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1003
  • पुरुष : 2,459,806
  • महिला : 2,121,462

औरैया

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 5690.49, 17 सितंबर, 1997 को दो तहसीलों औरैया और विधूना को जिला इटावा से अलग करके नए जिले औरैया के रूप में जोड़ा गया । जिला औरैया राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 2 (मुग़ल सराय रोड) पर स्थित है, यह इटावा जिला मुख्यालय के पूर्व में 64किमी और कानपुर शहर के पश्चिम में 105 किमी की दूरी पर है । औरैया में 7 ब्लाक ‍‍‍हैं जिनके नाम हैं,औरैया, अजीतमल, विधूना, सहार, अछल्‍दा, भाग्‍यनगर, एरवाकटरा.

  • क्षेत्रफल : 2016 Sq. Km
  • आबादी :1,379,545
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 848
  • पुरुष : 740,040
  • महिला : 639,505

अयोध्या

अनेकों प्रख्यात राजा यथा इक्ष्वाकु, पृथु, मान्धाता, हरिश्चंद्र, सागर, भागीरथ, रघु, दिलीप, दशरथ तथा राम ने कोशल देश की राजधानी अयोध्या से शासन किया। उनके शासन काल में राज्य का वैभव शिखर पर पहुंचा तथा राम राज्य का प्रतीक बना।

  • क्षेत्रफल : 10.24 Sq. km.
  • आबादी : 40642 (1991 जनगणना के अनुसार)
  • ऊंचाई :समुद्र तल से 26.90 मीटर
  • भाषा : हिन्दी, अवधी और अंग्रेजी
  • गर्मी में पहनावा : सूती
  • जाड़े में पहनावा : ऊनी

कानपुर देहात

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9202.69, जनपद के सर्वांगीण विकास को दृष्टिगत रखते हुये 11 अप्रैल 1994 को प्राचीन नगरी अकबरपुर को मुख्यालय स्थल घोषित कर कालपी रोड स्थित अकबरपुर (माती) में तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव द्वारा कानपुर देहात मुख्यालय का शिलान्यास किया गया।

  • क्षेत्रफल : 3,021 Sq. Km.
  • आबादी : 17,96,191
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1031
  • पुरुष : 9,60,091
  • महिला : 8,36,100

देवरिया

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9437.13, यह जनपद 26 ° 6′ उत्तर और 27 ° 8′ से 83 ° 29′ पूर्व और 84 ° 26′ पूर्वी, देशांतर के बीच स्थित है, जिसमें से 1994 में जनपद कुशीनगर को देवरिया जिले के उत्तर-पूर्व भाग को लेकर बनाया गया. जनपद देवरिया उत्तर में जनपद कुशीनगर, पूर्व में जनपद गोपालगंज और सिवान (बिहार राज्य), दक्षिण में मऊ और बलिया तथा पश्चिम में गोरखपुर जनपद से घिरा है.

  • क्षेत्रफल : 2,540 Sq. Km.
  • आबादी : 3,100,946
  • लिंग अनुपात : 1017
  • भाषा : 2162
  • पुरुष :1,537,436
  • महिला : 1,563,510

अम्बेडकर नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8144.73, अकबरपुर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में अम्बेडकर नगर जिले में एक शहर और एक नगरपालिका बोर्ड है। यह अम्बेडकर नगर जिला का प्रशासनिक मुख्यालय है। अकबरपुर भी राम मनोहर लोहिया (1910-1967) का जन्म स्थान है जो एक प्रसिद्ध भारतीय स्वतंत्रता सेनानी और एक समाजवादी राजनीतिक नेता थे। यह जिला 29 सितंबर 1 99 5 को बनाया गया था और डॉ। भीम राव अम्बेडकर की स्मृति में नामित किया गया था,जो सोसायटी के वंचित वर्गों, महिलाओं और अन्य कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए काम किया ।

  • क्षेत्रफल :2350 Sq. Km.
  • आबादी : लगभग. 2,397,888
  • भाषा : हिन्दी, अवधी
  • गाँव : 1757
  • पुरुष :लगभग 1,212,410
  • महिला : लगभग 1,185,478

सुलतानपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9412.37, ऐतिहासिक दृष्टि से जनपद सुलतानपुर का अतीत अत्यंत गौरवशाली और महिमामंडित रहा है । पुरातात्विक, ऐतिहासिक , सांस्कृतिक , भौगोलिक तथा औध्योगिक दृष्टि से सुलतानपुर का अपना विशिष्ट स्थान है । महर्षि वाल्मीकि, दुर्वासा, वशिष्ठ आदि ऋषि मुनियों की तपोस्थली का गौरव इसी जिले को प्राप्त है । परिवर्तन के शाश्वत नियम के अनेक झंझावातों के बावजूद इसका अस्तित्व अक्षुण्य् रहा है ।

  • क्षेत्रफल :2672.89 Sq. Km.
  • आबादी : 24,31,490
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1727
  • पुरुष : 12,26,650
  • महिला : 12,04,840

आजमगढ़

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 13985.78, आजमगढ़ भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ सम्भाग के तीन जिलों में से एक जिला है। इसका जिला मुख्यालय आजमगढ़ है। तमसा के पावन तट पर स्थित यह जनपद आज़मगढ़ अनेक ऋषियों की पावन पुण्य भूमि है। आज़मगढ़ जनपद उत्तर प्रदेश के पूर्वी भाग में स्थित है, जो गंगा और घाघरा के मध्य बसा हुआ है। यह जनपद आदि काल से ही मनीषियों, ऋषियों, चिन्तकों, विद्वानों और स्वतंत्रता सेनानियों की जन्म स्थली रही है।

  • क्षेत्रफल :4054 Sq. Km
  • आबादी : 46,12000
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 4101
  • पुरुष : 2284000
  • महिला :2328000

जालौन

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9828.48, जालौन उत्तर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य का एक जिला है | यह बुंदेलखंड क्षेत्र मै आता है | जालौन जिले का मुख्यालय उरई मे स्थित है | उरई शहर कानपुर एवं झाँसी NH-25 राष्ट्रीय राज्यमार्ग पर स्थित है

  • क्षेत्रफल :4,544 Sq. Km.
  • आबादी : 16,89,974
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1151
  • पुरुष : 906,092
  • महिला :783,882

मऊ

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8140.46, पूर्वी उत्तर प्रदेश का सुप्रसिद्ध एवं औद्योगिक दृष्टि से समुन्नत जनपद मऊ का इतिहास काफी पुराना है। रामायण एवं महाभारत कालीन सांस्कृतिक एवं पुरातत्विक अवशेष इस भू-भाग में यत्र-तत्र मिलते हैं। यद्यपि इस दिशा में वैज्ञानिक ढंग से शोध एवं उत्खनन के प्रयास नहीं किये गये ह, लेकिन भौगोलिक एवं ऐतिहासिक साक्ष्यों तथा किवंदतियों के आधार पर इसकी पुष्टि होती है। कहा जाता है कि त्रेतायुग में महाराज दशरथ के शासनकाल में इस स्थान पर ऋषियों की तपोभूमि थी।

  • क्षेत्रफल : 1,713 Sq. Km.
  • आबादी :2,205,170
  • भाषा : हिन्दी, भोजपुरी
  • गाँव : 1691
  • पुरुष : 11,14,888
  • महिला :10,90,282

फतेहपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 12816.58, फतेहपुर जिला उत्तरी भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के 75 जिलों में से एक है। जिले में 4,152 वर्ग किमी क्षेत्र शामिल है। जिले की जनसंख्या 2,632,733 (2011 की जनगणना) है। फतेहपुर शहर जिले का प्रशासनिक मुख्यालय है। पवित्र नदियों गंगा और यमुना के तट पर स्थित, फतेहपुर का अर्थ पुराणिक साहित्य में किया गया था। भितौरा और असानी के घाटों को पुराणों में पवित्र माना गया था। ऋषि, ऋषि भृगु की साइट, सीखने का एक महत्वपूर्ण स्रोत था।

  • क्षेत्रफल : 4152 Sq. Km.
  • आबादी :2632733
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1521
  • पुरुष :1384722
  • महिला :1248011

बलिया

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 9263.23, बलिया जिले उत्तर प्रदेश राज्य का सबसे पुराना हिस्सा है और बिहार राज्य पर सीमाएं हैं। इसमें गंगा और घाघरा के संगम से पश्चिम की तरफ फैली अनियमित रूप से आकृति वाले मार्ग शामिल हैं, जो पूर्व में बिहार से अलग है और बाद में क्रमशः उत्तर और पूर्व में देवरिया और बिहार से अलग है।

  • क्षेत्रफल : 2,981 Sq. Km
  • आबादी :32,39,774
  • भाषा : हिंदी, भोजपुरी
  • गाँव : 2361
  • पुरुष :16,72,902
  • महिला :15,66,872

जौनपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 12242.53, अपने अतीत के लिए प्रसिद्ध और सीखने की महिमा जौनपुर की अपनी महत्वपूर्ण ऐतिहासिक, सामाजिक और राजनीतिक स्थिति है। भगदड़ खातों, शिलालेखों, पुरातात्विक अवशेषों और अन्य उपलब्ध तथ्यों के आधार पर इसके अतीत का अध्ययन करते हुए, जौनपुर जिले का निरंतर अस्तित्व किसी न किसी रूप में, उत्तर वैदिक काल तक देखा जाता है।

  • क्षेत्रफल : 4,038 Sq. Km.
  • आबादी :44,94,204
  • भाषा : हिंदी, भोजपुरी
  • पुरुष :22,20,465
  • महिला :22,73,739

हमीरपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 12235.41, वाल योगी सिद्ध “श्री बाबा बालाक नाथ दियोट सिध्द” के लिए प्रसिद्ध, जिला हमीरपुर हिमाचल प्रदेश के केंद्र में स्थित है। मुख्य रूप से पहाड़ी भू-भाग शिवालिक पहाड़ियों में स्थित हमीरपुर जिला 400 मीटर से 1100 मीटर तक की ऊंचाई में फैला हुआ है |

  • क्षेत्रफल :4,121.9 Sq. Km.
  • आबादी :11,04,285
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 617
  • पुरुष : 5,93,537
  • महिला : 5,10,748

प्रतापगढ़

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 8848.23, प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। जो सन् १८५८ में अस्तित्व में आया। प्रतापगढ़-कस्बा जिले का मुख्यालय है। ये जिला प्रयागराज मंडल का एक हिस्सा है। ये जिला २५° ३४’ और २६° ११’ उत्तरी अक्षांश) एवं ८१° १९’ और ८२° २७’ पूर्व देशान्तर रेखांओं पर स्थित है।

  • क्षेत्रफल :3730 Sq.km.
  • आबादी :32,09141
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 2265
  • पुरुष :16,06085
  • महिला :16,03056

झाँसी

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 13658.51, झाँसी शहर, पहुंज और बेतवा नदी के बीच स्थित वीरता, साहस और आत्म सम्मान का प्रतीक है। ऐसा कहा जाता है कि प्राचीन काल में झाँसी, छेदी राष्ट्र, जेजक भुकिट, झझोती और बुंदेलखंड क्षेत्र में से एक था ।

  • क्षेत्रफल : 5024 Sq. km.
  • आबादी :19,98,603
  • भाषा : हिन्दी, बुन्देली, उर्दू और अंग्रेजी
  • ऊंचाई : समुद्र तल से 131 मीटर
  • एसटीडी कोड :(+91)0510

गाज़ीपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11437.17, गाज़ीपुर शब्द प्राचीन भारतीय इतिहास में नहीं है, लेकिन कुछ इतिहासकारों के अनुसार राजा गढ़ी महारसी जमदग्नी के पिता थे। उस अवधि के दौरान इस जगह को घने जंगलों से ढंका हुआ था और इसमें कई आश्रम थे यमदग्नी (परशुराम के पिता) आश्रम, पारसूम आश्रम, मदन वैन आदि।

  • क्षेत्रफल :3377 Sq. km
  • आबादी :36,20,000(2011)
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 3385
  • पुरुष :18,55,000
  • महिला :17,65,000

बांदा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11165.55, यह बुंदेलखंड का सबसे पूर्वी जिला है। जिले का विभाजन बांदा जिले, तहसील और ब्लॉक-वार को विभाजित करके किया गया है। वर्तमान चित्रकूट जिले के मानिकपुर, मऊ, पहाड़ी, चित्रकूट और रामनगर ब्लॉक सहित पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी दिशा में कर्बी और मऊ तहसीलें हैं।

  • क्षेत्रफल :4,408 Sq. Km.
  • आबादी :1,799,410 (जनगणना 2011 के अनुसार)
  • भाषा : हिंदी, बुन्देली
  • गाँव : 761
  • पुरुष :9,65,876
  • महिला :8,33,534

कौशाम्बी

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6449.14, वर्तमान में कौशाम्बी जिला 4 अप्रैल 1997 को इलाहाबाद जिले से बना था। जिला मुख्यालय, मंझनपुर यमुना नदी के उत्तर तट पर इलाहाबाद के दक्षिण-पश्चिम में इलाहाबाद से लगभग 55 किमी दूर स्थित है। यह दक्षिण में चित्रकूट, उत्तर में प्रतापगढ़, पूर्व में इलाहाबाद और पश्चिम में फतेहपुर से घिरा है।

  • क्षेत्रफल : 1780 Sq. Km.
  • आबादी : 15,99,596
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 869
  • पुरुष :8,38,485
  • महिला :7,61,111

प्रयागराज

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 38806.26, प्रयागराज को प्राचीन धर्मग्रंथों में प्रयाग, प्रयागराज और तीर्थराज के नाम से निरूपित किया गया है। इसे भारत में तीर्थों में सर्वाधिक पवित्र और पुण्यदायिनी माना गया है। यह वह स्थान है जहां संगम पर गंगा, यमुना और सरस्वती नदी मिलती हैं। प्रत्येक छह साल में पड़ने वाले कुंभ और बारह साल में पड़ने वाले महाकुंभ में सबसे ज़्यादा तीर्थयात्री यहां उमड़ते हैं।

  • क्षेत्रफल : 54.83 Sq. km.
  • आबादी : 59,59,798 (2001 जनगणना के अनुसार)
  • भाषा : हिन्दी, उर्दू और अंग्रेजी
  • समुद्र तल से ऊंचा : समुद्र तल से 98 मीटर
  • पहनावा (गर्मी में) :सूती
  • पहनावा (जाड़े में) :ऊनी

महोबा

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6883.18, महोबा उत्तर प्रदेश का एक छोटा जिला इसके शानदार इतिहास के लिए प्रसिद्ध है यह अपनी बहादुरी के लिए जाना जाता है वीर अल्हा और ऊदल की कहानियां भारतीय इतिहास में इसके महत्व को परिभाषित करती हैं ऐसे कई स्थान हैं जो कि पिछले समय के जीवंत गौरवपूर्ण क्षण बना सकते हैं। महोबा बुंदेलखंड क्षेत्र में भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश में स्थित एक शहर है। महोबा खजुराहो, लवकुशनगर और कुलपहाड़, चरखारी, कालींजर, ओरछा और झांसी जैसे अन्य ऐतिहासिक स्थानों से निकटता के लिए जाना जाता है।

  • क्षेत्रफल : 2884 Sq. Km.
  • आबादी : 875968
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव :521
  • पुरुष : 466358
  • महिला :409600

वाराणसी

वाराणसी उन प्राचीन शहरों में है, जिसका दिल समृद्ध विरासत समेटे हुए आधुनिकता के साये तले भी धड़क रहा है। गंगा किनारे यह शहर हिंदुओं, बौद्ध और जैन समाज के लिए खासी अहमियत रखता है।

  • क्षेत्रफल : 73.89 वर्ग किलोमीटर
  • आबादी : 3,676,841
  • ऊंचाई : 80.71 मीटर (समुद्र तल के ऊपर)
  • मौसम :अक्टूबर-मार्च
  • गर्मी में पहनावा : सूती
  • जाड़े में पहनावा : ऊनी

चंदौली

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6429.11, जिला चंदौली 24 ° 56 ‘से 25 डिग्री 35’ से उत्तर और 81 डिग्री 14 ‘से 84 डिग्री सेल्सियस 24’ पूर्व में वाराणसी के पूर्व-दक्षिण-पूर्व से लगभग 30 किलोमीटर दूर स्थित है। चांदौली पूर्व में बिहार राज्य, गाज़ीपुर जिले के उत्तर-पूर्व-पूर्व, सोनीभद्र जिले के दक्षिण, बिहार के दक्षिण-पूर्व और दक्षिण-पश्चिम मिर्जापुर से पूर्व में घिरा है। कर्मनस नदी बिहार राज्य से विभाजित लाइन है। गंगा, कर्मनसा और चंद्रप्रवाह नदियों ने जिले की भौगोलिक और आर्थिक रणनीति बनाई है।

  • क्षेत्रफल : 70 m
  • आबादी : 23,020 (2011)
  • भाषा : हिन्दी
  • तहसील :5

चित्रकूट

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 3839.81, हिन्दू पौराणिक गाथाओं में इसका अलग स्थान है। महाकाव्य रामायण से भी इसका नजदीकी संबंध है। अपने प्राकृतिक सौंदर्य और देवभूमि होने से इसे नृत्य नाटकों में भी स्थान मिला है। माना जाता है कि यहीं पर भगवान श्रीराम ने सीता और लक्ष्मण समेत वनवास के 12 साल बिताए थें। यहीँ पर संत अत्रि और सती अनुसुइया ने भी तपस्या की थी।.

  • क्षेत्रफल : 38.2 sq. km.
  • आबादी : 8,00,592 (2001 जनगणना के अनुसार)
  • भाषा : हिन्दी, बुंदेली और अंग्रेजी
  • समुद्र तल से ऊंचा : समुद्र तल से 207 मीटर
  • पहनावा (गर्मी में) : सूती
  • पहनावा (जाड़े में) :ऊनी

मिर्जापुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 11406.48, मिर्जापुर भारत के उत्तर प्रदेश में एक शहर है, दिल्ली और कोलकाता दोनों से लगभग 650 किमी, इलाहाबाद से लगभग 87 किलोमीटर और वाराणसी से 67 किलोमीटर दूर है। इसकी 2,496,970 की आबादी है, जिसमें से पुरुष और महिला क्रमशः 1,312,302 और 1,184,668 थीं (माध्यम-जनगणना2011)

  • क्षेत्रफल :4,521 Sq. Km.
  • आबादी :24,96,970
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव :2079
  • पुरुष : 13,12,302
  • महिला :11,84,668

संत रविदास नगर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6123.29

विषय वस्तु शीघ्र ही उपलब्ध होगी

ललितपुर

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 6895.08

विषय वस्तु शीघ्र ही उपलब्ध होगी

सोनभद्र

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 13378.18, सोनभद्र उत्तर प्रदेश, भारत का दूसरा सबसे बड़ा जिला है। सोनभद्र भारत का एकमात्र जिला है जो मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ झारखंड और बिहार के चार राज्यों से है। यह उत्तरी अक्षांश 23.52 से 25.32 और पूर्वी अक्षांश 82.72 से 83.33 के बीच है।

  • क्षेत्रफल :6788 Sq. Km.
  • आबादी :18,62,559
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 1441
  • पुरुष : 97,13,44
  • महिला : 89,12,15

मुज़फ्फर नगर

उत्तर प्रदेश के उत्तरी भाग में स्थित मुज़फ्फरनगर मुख्य रूप से "भारत का चीनी बाउल"के नाम से जाना जाता है। जिले की अर्थव्यवस्था मुख्यतः कृषि और गन्ना, कागज और इस्पात उद्योगों पर आधारित है। मुज़फ्फरनगर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्रफल का हिस्सा है ।

  • क्षेत्रफल :2,991 Sq. Km.
  • आबादी : 28,29,860
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 704
  • पुरुष : 14,94,360
  • महिला : 13,35,500

शामली

शामली एक नया बना जिला है जो कि इससे पूर्व मुज़फ्फरनगर जिले का चर्चित तहसील हुआ करता था . ये पहले प्रबुद्धनगर जिले के नाम से अस्तित्व में आया था |

  • क्षेत्रफल :1167.58 Sq. Km.
  • आबादी : 13,13,650
  • भाषा : हिंदी, उर्दू, पंजाबी
  • गाँव : 322
  • पुरुष : 6,99,390
  • महिला : 6,14,260

रायबरेली

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 10668.02, रायबरेली जिला अंग्रेजों द्वारा 1858 में बनाया गया था अपने मुख्यालय शहर के बाद नामित किया था। परंपरा यह है कि शहर भरो द्वारा स्थापित किया गया था जो भरौली या बरौली के नाम से जानी जाती थी जो कालांतर में परिवर्तित होकर बरेली हो गयी ।उपसर्ग ‘राय’ का सम्बन्ध कायस्थ जो समय के एक अवधि के लिए शहर के स्वामी थे उपाधि के तौर पर ‘राय’ शीर्षक का प्रतिनिधित्व करता है।

  • क्षेत्रफल :4043 Sq. Km.
  • आबादी : 2903507
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1574
  • पुरुष :1495244
  • महिला : 1408263

अमेठी

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 7599.64, अमेठी जिले मे वर्तमान मे चार तहसील है – अमेठी, गौरीगंज, मुसाफिरखाना और तिलोई | अमेठी, जिले का बड़ा क़स्बा है | जिला अमेठी 26 डिग्री 9 मिनट उत्तर अक्षांश एवं 81 डिग्री 49 मिनट पूर्व देशांतर एवं सुमद्र तल से 101 मीटर की उचाई पर स्थित है|जिले का सम्पूर्ण भौगोलिक चेत्रफल 2329.11 वर्ग कि.मी.है|जिले की ज़मीन मुख्यता समतल है|

  • क्षेत्रफल :2329.11 Sq.Km.
  • आबादी : 18,67,678
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1000
  • पुरुष :9,45,235
  • महिला : 9,22,443

गाजियाबाद

14 नवंबर 1976 से पहले गाजियाबाद जिला मेरठ की तहसील थी। तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री एन.डी. तिवारी ने 14 नवंबर 1976 को भारत के पहले प्रधान मंत्री, पं जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर गाजियाबाद को जिला के रूप में घोषित किया।

  • क्षेत्रफल :1034 Sq. Km.
  • आबादी :34,06,061
  • भाषा : हिन्दी
  • गाँव : 205
  • पुरुष : 18,60,400
  • महिला : 16,60,412

हापुड़

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 10202.11, तत्कालीन मुख्यमंत्री कुमारी मायावती ने 28 सितंबर 2011 को हापुड़ को पंचशील नगर नाम से एक जिला के रूप में घोषित किया । जुलाई 2012 मे माननीय मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने इसका नाम बदलकर ‘ हापुड़ जिला’ रखा। हापुड़ की कुल आबादी 13,28,322 है। इसको स्टेनलेस स्टील पाइप और ट्यूब बनाने के विनिर्माण केंद्र के रूप में उल्लेख किया गया है। हापुड़ पापड़, पेपर शंकु और ट्यूबों के लिए भी प्रसिद्ध है। भारत की राजधानी नई दिल्ली से लगभग 60 किमी की दूरी पर स्थित है। दिल्ली-लखनऊ से जुड़े राष्ट्रीय राजमार्ग 24 भी शहर से गुजरती हैं। इसे पहले ‘हरिपुर’ के नाम से जाना जाता था । यह शहर दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र के अंतर्गत आता है ।

  • क्षेत्रफल :1116 Sq. Km
  • आबादी :1,33,8000
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 352
  • पुरुष :7,08,910
  • महिला : 6,29,400

बदायूं

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 15190.55, बदायूं भारत के उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख शहर एवं लोकसभा क्षेत्र है। बदायूँ, उत्तर प्रदेश का एक महत्त्वपूर्ण ज़िला है। यह गंगा की सहायक नदी स्रोत के समीप स्थित है। 11वीं शती के एक अभिलेख में, जो बदायूँ से प्राप्त हुआ है, इस नगर का तत्कालीन नाम वोदामयूता कहा गया है। इस लेख से ज्ञात होता है कि उस समय बदायूँ में पांचाल देश की राजधानी थी।

  • क्षेत्रफल :4234.21 Sq. Km.
  • आबादी :31,29,000
  • भाषा : हिंदी
  • गाँव : 1698
  • पुरुष :16,71,000
  • महिला : 14,58,000

मुरादाबाद

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 20810.33, उत्तर प्रदेश के भारतीय राज्य में एक नगर, आयुक्त और एक नगर निगम है। यह 1625 ए.डी. में स्थापित किया गया था। रुस्तम खान द्वारा और इसका नाम मुगल सम्राट शाहजहां के पुत्र राजकुमार मुराद बक्ष के नाम पर रखा गया है।

  • क्षेत्रफल :10,863 Sq. Km.
  • आबादी :34,06,061
  • भाषा : हिंदी
  • तहसील : 4
  • गाँव :1210
  • ब्लाक : 8

सम्भल

जीएसडीपी (करोड़ रुपये में) - 10025.05, भीम नगर सम्भल उत्तर प्रदेश के नए बनाए गए जिलों में से एक है। जिसके निर्माण की घोषणा २८ सितंबर २०११ को की गई। इस नव-सिर्जित जिले का मुख्यालय पवांसा मे बनाया जाएगा। २३ जुलाई २०१२ को जनपद का नाम भीमनगर से बदलकर सम्भल कर दिया गया |सम्भल जनपद में ३ तहसीलें सम्भल चन्दौसी और गुन्नौर हैं |

  • क्षेत्रफल :2453.30 Sq. Km.
  • आबादी :2192933
  • भाषा : हिंदी
  • तहसील : 1022
  • गाँव :1161093
  • ब्लाक : 1031840
Tooltip Tooltip
  • UNESCO Recognized Sites
  • MICE Destinations
  • Hidden Treasures
  • Wildlife/Eco Tourism Sites
  • Heritage Sites
  • Religious Sites
  • Weekend Destinations
  • Buddhist Circuit
  • Bundelkhand Circuit
  • Braj Circuit
  • Awadh Circuit
  • Vindhya-Varanasi Circuit
  • Wild Life-Eco Tourism Circuit
  • Cinematic Tourism
  • Projects

#UmmazingUP  में वर्तमान कार्यक्रम

पृष्ठभूमि की छवि

उत्तर प्रदेश के पर्व

जानें उत्तर प्रदेश के पर्वों के बारे में

पृष्ठभूमि की छवि

उत्तर प्रदेश यात्रा

अपनी सुविधानुसार अपनी यात्रा नियोजित करें

हमारी इस सेवा के माध्यम से अपनी भ्रमण यात्रा सुनिश्चित करें

उत्तर प्रदेश की यात्राओं की छवि
पृष्ठभूमि की छवि
व्यवसाय की छवि
क्या आप एक उद्यमी हैं?
हमसे प्रोत्साहन प्राप्त करने हेतु यहां क्लिक करें।
और देखें
व्यवसाय की छवि
यूपी प्रो-पुअर पर्यटन विकास परियोजना
और देखें
पृष्ठभूमि की छवि
पृष्ठभूमि की छवि

हमसे जुडें

उत्तर प्रदेश, एक विशिष्ट पहचान

पृष्ठभूमि की छवि
 
कार्यक्रम